Bihar Board physics paper Leak 2024

अगर आप भी आज एग्जाम देने वाले हैं तो आपके लिए सबसे बड़ी खुशखबरी है कि जो पेपर है वह वायरल हो चुका है उसका कुछ क्वेश्चन जो है हमारे पास अवेलेबल है जो हम इस आर्टिकल के नीचे उसे क्वेश्चन को दे देते हैं आप लोग जल्दी से पढ़ लीजिए और जाकर एग्जाम में धाराधार टिक मार्क कर दीजिए और क्वेश्चन जितना भी लड़े कमेंट करके अवश्य बताइए कि क्वेश्चन कितना आपका मैच हुआ है ।।

 

खण्ड अ वस्तुनिष्ठ प्रश्न
निर्देश प्रश्न संख्या 1 से 70 में से केवल 35 वस्तुनिष्ठ प्रश्नों का
चयन करें चुने गए प्रश्न के सही विकल्प को चिह्नित कर अपने OMR
ANSWER- SHEET में रंजित करें।
35 x 1 = 35
1. आवेशित संधारित्र पर कुल आवेश होता है:
(A) शून्य
(B) 1pC
(C) 1C
(D) अनंत
2. एक उच्चायी ट्रान्सफार्मर की द्वितीय कुण्डली में धारा का मान प्राथमिक
कुण्डली की तुलना में होता है:
(A) बराबर
(B) कम
(C) अधिक
(D) इनमें से कोई नहीं
3. जब प्रकाश स्रोत और पर्दे के बीच की दूरी बढ़ा दिया जाए तो फ्रिंज
की चौड़ाई:
(A) बढ़ती है
(C) अपरिवर्तित रहती है
4. प्रकाश अनुप्रस्थ तरंग है, क्योंकि
(A) परावर्तन
(B) घटती है
(D) इनमें से कोई नहीं
यह प्रदर्शित करता है:
(B) ध्रुवण
(D) विवर्तन
(C) व्यतिकरण
5. एक ही तरंगदैर्घ्य के इलेक्ट्रॉन तथा फोटॉन की कौन-सी भौतिक राशि
समान होगी?
(A) वेग
(C) संवेग
(B) ऊर्जा
(D) कोणीय संवेग
6. p प्रकार के अर्द्धचालकों के लिए अशुद्ध तत्व के रूप में प्रयोग किया
जाता है :
(A) बोरॉन
(C) आर्सेनिक
7. UHF आवृत्ति का तरंग प्रायः कैसे संचारित होती है ?
(A) भू-तरंग
(B) आकाश तरंग
(B) बिस्मथ
(D) फॉस्फोरस
(C) सतह तरंगे
8. आवेश का परिमाणीकरण दर्शाता है कि
(A) आवेश जो एक इलेक्ट्रॉन पर आवेश का एक अंश है, संभव
(D) अन्तरिक्ष तरंगे
नहीं है
(B) एक आवेश को नष्ट नहीं किया जा सकता है
(C) कणों पर आवेश होता है
(D) एक कण पर न्यूनतम अनुमेय आवेश होता है
9. विभवमापी से मुख्यतः क्या मापा जाता है?
(A) धारा
(B) प्रतिरोध
(C) विभवान्तर
10. पूर्ण आन्तरिक परावर्तन की स्थिति
(A) 0.5 (B) 1
का मान होता है :
11. हवा में E,
(A) शून्य
(A) E –
(C) 1
12. निम्नलिखित में कौन संबंध सही है ?
(C) E =
1 १
*4n Eo F
F
13. एक एकांकी चालक के लिए निम्न में से कौन अनुपात अचर होता
(D) इनमें से सभी
में परावर्तन गुणांक का मान होगा
(C) 0 (D) o
(A)
(B) अनंत
(D) 9 x 109
(A)
(A) कुल आवेश/ विभव
(C) कुल आवेश/विभवांतर
(B) दिया गया आवेश/विभवांतर
(D) इनमें से कोई नहीं
14. किसी आवेशित खोखले गोलाकार चालक के भीतर विद्युतीय तीव्रता
का मान होता है :

(C)
(B) E = g F

(A) EO0
(B)
(C) Zero
Eo
15. एक आवेशित चालक का क्षेत्र आवेश घनत्व है। इसके पास विद्युत
क्षेत्र का मान होता है :
4t Eo
R
(D)

o
2r
(B)
2 Eg
Eo
Eo
16. R त्रिज्या की पृथ्वी की विद्युत धारिता होती है
R
(B) 4t Eg R
4n Eo
?
(D) 4n Eo R2
(D) Eo
2
(D)

3 Go

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top