CTET kya hai : सीटेट क्या है जाने यहां पूरी जानकारी !

CTET kya hai :

CTET परीक्षा के माध्यम से प्राइमरी और एलीमेंट्री स्कूल में इंजीनियरों का चयन कि जाती है। यदि आप प्राथमिक प्राथमिक अध्यापक बनना चाहते हैं तो यह परीक्षा आपके स्टार्टअप और मानसिक योग्यता का मानक तय करेगा। CTET परीक्षा पास करने के बाद आप कक्षा 1 से 8 तक के लिए उत्तीर्ण हो सकते हैं। सीटेट एग्जामिनेशन में 2 लेवल होते हैं अर्थात शिक्षा के लिए 2 पेपर होते हैं जिनमें पेपर 1 क्लीयर करने के बाद आप कक्षा 1 से 5 (प्राथमिक स्तर) तक और पेपर 2 में कक्षा 1 से 8 (प्राथमिक स्तर) तक का मौका मिलता है।सीटीईटी का एग्जाम भारत के हर राज्य में आयोजित होता है आईआईईटी के यह एग्जाम नेशनल लेवल पर मिलता है। CTET परीक्षा योजना का उद्देश्य यही है कि बच्चों को उपयुक्त शिक्षक प्रदान किया जाये।

CTET Full Form

CTET का फुल फॉर्म अंग्रेजी में “सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट” और हिंदी में CTET का पूरा नाम “केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा” होता है।

CTET की योग्यता क्या है?

CTET की योग्यता को यहां 2 भागों में बांटा गया है यानी कि पेपर-1 और पेपर-2 के लिए अलग-अलग योग्यता का प्रावधान होता है।

1. सीटेट पेपर-1 क्लियर करने के बाद उम्मीदवार को कक्षा 1 से 5 तक (प्राथमिक स्तर) का पद मिलता है। यदि आप निम्नलिखित योग्यता प्राप्त करना चाहते हैं तो आप केवल CTET पेपर -1 का परीक्षा दे सकते हैं।

  1. किसी भी प्रमाणित स्कूल से अच्छे मार्क्स के साथ 12वीं पास कर लें।
  2. अब डिप्लोमा (D.ed) कोर्स करें जो 2 साल का होना जरूरी है।

2. सीटीईटी पेपर-2 क्लियर करने के बाद आप कक्षा 6 से 8 तक (प्राथमिक स्तर) के लिए उपयुक्त होते हैं। अगर आपके पास है तो आप CTET के दोनों स्तरों की परीक्षा दे सकते हैं।

  1. कोई भी तरह से प्रमाणित होना चाहिए स्कूल से 12वीं पास करना जिसमें कम से कम 60% अंक  होना अनिवार्य है।
  2. 12वीं पास करने के बाद ग्रेजुएशन क्लियर करें जिसमें कम से कम 50% अंक होना चाहिए।
  3. अब बी.एड और सीटीईटी के लिए भी आवेदन करें।

आयु सीमा: सीटीईटी के लिए पात्र होने के लिए आवेदक को भारत का नागरिक होना चाहिए, साथ ही इसके लिए कोई आयु प्रतिबंध नहीं है, हालांकि, उम्मीदवार की आयु न्यूनतम 17 वर्ष होनी चाहिए।

स्टार्टअप योग्यता: समुंद्री समुद्र तट न्यूनतम 55% अंक के साथ पोस्ट-ग्रेजुएशन (किसी भी विषय में) या समकक्ष ग्रेड के साथ 3-वर्षीय बी.एड-एम.एड पूरा किया हुआ है, टीईटी परीक्षा में शामिल हो सकते हैं।

CTET परीक्षा की अच्छे तैयारी कैसे करें?

  • आप जिस भी भर्ती की तैयारी कर रहे हैं उसका सिलेबस और पैटर्न ध्यान में रखना बहुत जरूरी है। क्योंकि जब तक आपको यह नहीं पता होगा कि आपने क्या पढ़ा है और परीक्षा में क्या आया है तो आप बेमतलब का समय वैकल्पिक करेंगे। इसलिए अपनी तैयारी करने से पहले CTET सिलेबस और रिव्यू जरूर देखें और उसी हिसाब से टॉपिक्स कवर करें।
  • समय सारणी (Time table) निश्चित करें:- आप चाहे CTET की तैयारी कर रहे हैं या कोई और एक सही Time Table का होना बहुत जरूरी है। क्योंकि आपके डेली रूटीन और पढ़ाई के समय में संतुलन होना बहुत जरूरी है यानी कि पढ़ने के समय क्या जरूरी कामों पर ध्यान ना दें।
  • एनसीआरटी किताबें पढ़ें:- अगर आप सिटीसेट की तैयारी कर रहे हैं तो एनसीईआरटी की किताबें जरूर पढ़ें क्योंकि एनसीआरटी की किताबें भी भर्ती के लिए सबसे अच्छी होती हैं और गहन अध्ययन के लिए सबसे अच्छी साबित होती हैं।
  • पुराने प्रश्नपत्र (पुराने पेपर्स) पर अभ्यास करें:- कंपनी की तैयारी में पिछले साल के पेपर्स अहम रोल अदा करते हैं क्योंकि पुराने प्रश्नपत्रों से आपको आइडिया लग जाता है कि आप किस तरह के प्रश्न पूछते हैं।
  • मॉक टेस्ट करें:- कंपनी की तैयारी बीच-बीच में खुद का टेस्ट जरूर लें, जिसमें आप मॉक टेस्ट रख सकते हैं। ऐसा करने से आपको पता चलेगा कि आपकी तैयारी किस स्तर तक हो गई है।

Disclaimer:- हमारे द्वारा दिया गया यह जानकारी हम और हमारी टीम आप तक पहुंचाती है हमारा उद्देश्य है शिक्षा जानकारी, सरकारी योजना, लेटेस्ट जॉब तथा डेली अपडेट से जुड़ी जानकारी आप तक पहुंचाना है, जिससे आप इसके बारे में अच्छी तरह जान सके, इससे जुड़ा कोई भी निर्णय आपका अंतिम निर्णय होगा इसमें हम और हमारी टीम का कोई भी सदस्य जिम्मेदार नहीं होगा।

धन्यवाद.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top